Google search engine

जीवन में हंसने से बेहतर कुछ भी नही – अजीत सिंह

शिकागो, अमेरिका। विवेक जैन।

इंड़ियन अमेरिकन बिजनेस काउंसिल के चेयरमैन एवं प्रमुख समाजसेवी अजीत सिंह ने विश्व हास्य दिवस पर लोगों से हर विषम परिस्थितियों में खुश रहने, हंसने-मुस्कुराने और सकारात्मकता को अपनाने की अपील की है। कहा कि जीवन में हंसने से बेहतर कुछ भी नही है। उन्होंने बताया कि हर वर्ष मई महीने के पहले रविवार को विश्व हास्य दिवस पूरी दुनिया में बड़े ही धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। कहा कि हंसने मात्र से हम शरीर की कई बीमारियों पर काबू पा सकते है। हंसने से हमारी इम्युनिटी बढ़ती है। हंसना तनाव को कम करने को सबसे अच्छा माध्यम है। हंसने से शरीर में रक्त प्रवाह व ऑक्सीजन में बढ़ोत्तरी होती है। हंसी मस्तिष्क व हदय को शक्ति प्रदान करती है। फेफड़ों की क्षमता में सुधार लाती है और श्वसन तंत्र को मजबूत बनाती है। पेट की मांसपेशियों को प्राकृतिक कसरत प्रदान करती है और पाचन में सुधार लाती है। हंसने और खुश रहने से सिरोटोनिन, एंडोर्फिन, ऑक्सीटोसिन और डोपामाइन जैसे हैप्पी हार्मोन की शरीर में मात्रा बढ़ती है और हमारी सेहत पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। कहा कि स्वस्थ रहने के लिए जब भी समय मिले खुलकर हंसे। अधिकांश बीमारियों को दूर रखने और शरीर को ऊर्जावान बनाये रखने के लिए हंसने से अच्छी कोई थैरेपी नही है। उन्होंने सभी लोगों को विश्व हास्य दिवस की शुभकामनाएं देते हुए सभी से खुलकर हंसने और मुस्कुराने की अपील की।

Google search engine

Arjun Bhoomi

अर्जुन भूमि - Call : +91.7017821586 Email : arjunbhoomi2017@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

माटी का भोग लगाकर कन्हैया ने मां यशोदा और नंद बाबा को कराया ब्रह्मांड का दर्शन : आचार्य राधा चेतन स्वामी

Sun May 5 , 2024
Post Views: 52 राधा गोविंद पार्क में चल रही श्री मद् भागवत कथा में भगवान श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं एवं गिरिराजजी की कथा का वर्णन Track all markets on TradingView मेरठ। आचार्य राधा चेतन स्वामी ने कहा कि, ‘नटखट कृष्ण कन्हैया ने बचपन में मिट्टी खाकर अपनी मां यशोदा और […]

You May Like

Topics