Google search engine

मूल निवास और भू कानून पर भाजपा ही लेगी जन पक्षीय निर्णयः महेंद्र भट्ट

देहरादून,  । भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट एवं मुख्यमंत्री पुष्कर धामी की मौजूदगी में लोकसभा चुनावों के दृष्टिगत आज पार्टी संयुक्त मोर्चा प्रदेश पदाधिकारी बैठक संपन्न हुई । जिसमे श्री भट्ट ने कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा, लोकसभा चुनाव में जीत इतनी प्रचंड होनी चाहिए कि वर्षों तक विरोधी खड़े नही हो पाएं । हमारी सरकार ने राज्य निर्माण किया, विकास किया और मूल निवास एवं भू कानून जैसे विषयों पर भी जनता के पक्ष में निर्णय भाजपा ही लेगी। वहीं मुख्यमंत्री धामी ने कहा, हम सभी सौभाग्यशाली हैं जो श्री राम को सैकड़ों वर्षों के बाद अपने जन्मस्थान में विराजते देख रहे हैं और पीएम मोदी के नेतृत्व में देश में राम राज के प्रत्यक्षदर्शी बन रहे हैं । साथ ही भू कानून समेत तमाम मुद्दों पर विपक्षी भ्रम के जवाब में कहा, राज्यहित में ऐसे तमाम विषयों का समाधान भाजपा ने किया है, करती है और करेगी भी सिर्फ भाजपा।
आम चुनावों की तैयारियों को लेकर हुई पार्टी का यह महत्वपूर्ण बैठक आज राजधानी के एक निजी होटल में आयोजित की गई। बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए श्री भट्ट ने कहा, आगामी लोकसभा चुनाव में हमारा जीतना सौ फीसदी तय है। लेकिन हमारी चुनौती है वो प्रचंड जीत, जिसके बाद विपक्ष वर्षों तक ठीक से खड़े होने की स्थिति में नहीं रहे। उन्होंने कहा कि इस बार का चुनाव में पूरी तरह से मोर्चों पर आधारित होगा, लिहाजा मोर्चों के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को पार्टी के कार्यक्रमों को नीचे तक पहुंचाना है। 5 जनवरी से लेकर चुनाव तक प्रत्येक मोर्चे को पूरी तरह से सक्रिय होकर दिए लक्ष्य अनुशार काम करना है और अधिक से अधिक लोगों को पार्टी से जोड़ना है। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत कर कहा, विपक्ष के पास जनता का सामने करने का साहस नहीं है तभी जन सरोकारों से जुड़े मुद्दों पर अफवाह एवं भ्रम फैलाकर वे परदे के पीछे से राज्य के विकास को अवरूद्ध करना चाहते हैं। हमारे कार्यकर्ताओं को अब इसी साजिश को नाकाम करना है क्योंकि भाजपा सरकार ने ही राज्य का निर्माण किया और अब उसका विकास कर रही है। लिहाजा मूल निवास एवं भू कानून जैसे सभी जनता से जुड़े मुद्दों का देवभूमि के हित में समाधान भी भाजपा ही करने वाली है।
इस दौरान मुख्यमंत्री धामी ने सभी मोर्चा पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा, हम सभी सौभागधाली हैं कि 550 वर्षों के इंतजार के बाद प्रभु श्री राम अपने जन्मस्थान में विराज रहे हैं। साथ ही बेहद गौरव की बात है कि यह सब त्रेता युग के बाद पीएम मोदी के नेतृत्व देश में जारी राम राज में यह सब संभव हो रहा है। लिहाजा देश के विकास और सांस्कृतिक क्रांति के इस दौर में जनता का विश्वास भाजपा को मिलना तय है । प्रदेश में भी विपक्ष मुद्दाविहीन होकर अफवाह फैलाने की नीति पर काम कर रहा है। उनके पास जनता के पास जाने का नैतिक साहस नहीं है और झूठ फैलाने का काम कर रहा है। लिहाजा हमे जनता में जाकर भाजपा सरकारों के ट्रेक रिकॉर्ड को रखना है । साथ सरकार के कामों के साथ साथ विश्वास भी जगाना है कि शीघ्र ही यूसीसी, मूल निवास और सख्त भू कानून भी भाजपा सरकार में ही लेकर आएगी। सभी कार्यकर्ताओं को चुनावों के लिए पूरी तरह जुटना है और जीत के सभी सभी पुराने रिकॉर्ड ध्वस्त करने हैं।
इस दौरान श्री भट्ट ने अपने संबोधन में कहा कि राष्ट्रीय स्तर से मोर्चों के दृष्टिगत बहुत से महत्वपूर्ण कार्यक्रम हमे संचालित करने हैं । जिसमे सभी मोर्चों को संख्या की दृष्टि से बड़े आयोजन जिलों एवं मंडल स्तर तक हम सबको आयोजित करने हैं । युवा मोर्चा को 24 जनवरी को होने वाले युवा नव मतदाता सम्मेलन को वृहद स्वरूप में लिया जाए, जिसमे पीएम मोदी का वर्चुअल मार्गदर्शन सबको मिलने वाला है । इसी तरह विगत वर्षों की तरह 26 जनवरी को मंडल स्तर तिरंगा यात्रा के तहत न्यूनतम 75 सवारों की बाइक रैली निकाली जाएगी । इसी तरह अनेक विभिन्न व्यवसायों और रोजगार से जुड़े उन तमाम युवाओं को पार्टी से जोड़ना है जो सरकार और संगठन के समर्थक हैं । इसी तरह युवा मोर्चा को मतदाताओं का ब्यौरा तैयार करना है, क्षेत्र के खिलाड़ियों को संगठित कर प्रतियोगिता भी आयोजित करना है, घर घर कमल का झंडा लगाने से लेकर सोशल मीडिया में पार्टी का माहौल तैयार करना है । वहीं महिला मोर्चा को भी लखपति दीदी महिलाओं, स्वयं सहायता समूहों, एनजीओ के संवाद स्थापित कर बूथ स्तर पर महिलाओं को पार्टी के पक्ष में सक्रिय किया करना है । साथ ही श्री राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के दिन सभी मंदिरों में राम कीर्तन का आयोजन करना है । एससी और एसटी मोर्चों को हाल में किए अपने वर्गों के सम्मेलन की श्रंखला को नीचे तक ले जाना है और इसमें शामिल लोगों से लगातार संपर्क बनाए रखना है । साथ ही बस्ती संपर्क अभियान से छूटी हुई बस्तियों में पहुंचना है, अपने वर्गों के मेघावी छात्र छात्राओं और उनके परिवारों को सम्मानित करना है और संस्कृति पहनावे, खानपान एवं लोककला को लेकर कार्यक्रम करने हैं । प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान ने जानकारी कि बैठक में युवा मोर्चा, महिला मोर्चा, एससी मोर्चा, एसटी मोर्चा, ओबीसी मोर्चा, किसान मोर्चा एवं अल्पसंख्यक मोर्चे के प्रदेश प्रभारी, प्रदेश पदाधिकारी और जिला अध्यक्षों ने सहभागिता की। उद्घाटन सत्र के उपरांत, चक्रीय बैठक प्रक्रिया अनुशार प्रत्येक मोर्चे की अलग अलग बैठक में प्रस्तावित कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी के साथ उनके सुझाव भी लिए गए। संयुक्त मोर्चा बैठक में प्रदेश उपाध्यक्ष कुलदीप कुमार, प्रदेश महामंत्री आदित्य कोठारी, खिलेंद्र चौधरी, राजेंद्र बिष्ट, महिला मोर्चा एवं एसटी मोर्चे के राष्ट्रीय पदाधिकारी स्वराज विद्वान, दीप्ति रावत, नेहा जोशी, प्रदेश कार्यालय सचिव कौस्तुभानंद जोशी, मोर्चों के प्रदेश अध्यक्ष समीर आर्य, आशा नौटियाल, राकेश गिरी, राकेश राणा, जोगेंद्र पुंडीर शशांक रावत, इंतजार हुसैन, महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ अग्रवाल प्रमुख रूप में मौजूद रहे।

Google search engine

Arjun Bhoomi

अर्जुन भूमि - Call : +91.7017821586 Email : arjunbhoomi2017@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

वक्फ बोर्ड की वार्षिक रिपोर्ट 20 वर्षों से विधानसभा के समक्ष नहीं रखी गयी

Thu Jan 4 , 2024
Post Views: 48 –2003 में वक्फ बोर्ड गठन से 2023 तक की वार्षिक रिपोर्ट बनी ही नहीं Track all markets on TradingView देहरादून,  । उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के क्रियाकलाप की वार्षिक रिपोर्ट राज्य सरकार द्वारा बनाकर 20 वर्षों से विधानसभा के समक्ष नहीं रखी गयी हैं। 2003 में राज्य वक्फ […]

You May Like

Topics